Palash Biswas On Unique Identity No1.mpg

Unique Identity No2

Please send the LINK to your Addresslist and send me every update, event, development,documents and FEEDBACK . just mail to palashbiswaskl@gmail.com

Website templates

Zia clarifies his timing of declaration of independence

What Mujib Said

Jyoti basu is DEAD

Jyoti Basu: The pragmatist

Dr.B.R. Ambedkar

Memories of Another Day

Memories of Another Day
While my Parents Pulin Babu and basanti Devi were living

"The Day India Burned"--A Documentary On Partition Part-1/9

Partition

Partition of India - refugees displaced by the partition

Thursday, October 1, 2015

Sanjay Joshi And now preparation of 1st Cinema of Resistance Garhwal Film Festival September 26, 27, 2015 ALC Auditorium, Birla Campus, HNB Garhwal University, Shrinagar, Garhwal

And now preparation of 1st Cinema of Resistance Garhwal Film Festival 
September 26, 27, 2015 
ALC Auditorium, Birla Campus, HNB Garhwal University, Shrinagar, Garhwal


Cinema of Resistance added 9 new photos.

सितम्बर का यह सप्ताह प्रतिरोध का अभियान के लिए बहुत उत्साहजनक है . आज ही हमारे उदयपुर चैप्टर ने अपने तीसरे उदयपुर फिल्म फेस्टिवल की शानदार शुरुआत प्रख्यात नारीवादी चिन्तक, इतिहासकार और फ़िल्मकार उमा चक्रवर्ती के वक्तव्य से हुई है.

आज ही हमारे पहले गढ़वाल फिल्म फेस्टिवल की तैय्यारियाँ भी जोरो से चल रही हैं. पहले गढ़वाल फिल्म फेस्टिवल का उदघाटन कल सुबह 11 बजे श्रीनगर शहर के हेमवती नंदन बहुगुणा विश्विद्यालय के ए एल सी सभागार में हिंदी के प्रखर आलोचक आशुतोष कुमार के वक्तव्य से होगा .

इस अवसर पर गढ़वाल के प्रसिद्ध चित्रकार बी मोहन नेगी और देवेन्द्र नैथानी के कविता पोस्टर और योगेन्द्र कांडपाल के रेखांकनों की प्रदर्शनी भी आयोजित की जा रही है. इस आयोजन को सुन्दर बनाने के लिए दिल्ली से पीपुल्स आर्टिस्ट ग्रुप के कलाकार अनुपम रॉय भी शहर में आ चुके हैं. आयोजन को सफल बनाने के लिए छात्र संगठन आइसा के युवा दिन - रात जुटे हैं जिन्हें उनके सीनियर साथी कान्ति चंदोला, मदन मोहन चमोली, इन्द्रेश मैखुरी, अतुल सती, योगेन्द्र कांडपाल, मालती हालदार और शिवानी पांडे का सहयोग मिल रहा है .

आयोजन में गोरखपुर फिल्म सोसाइटी के संस्थापक सदस्य अशोक चौधरी, मनोज सिंह और देवरिया के पत्रकार अनिल राय भी आ चुके हैं. फिल्म फेस्टिवल में बंगलुरु फिल्मकार निर्विकल्प और पटकथाकार रमेश पन्त भी शहर में आ चुके हैं.

इस आयोजन का पूरा विवरण नीचे दिया जा रहा है. उम्मीद है आप इस आयोजन में जरुर शामिल होंगे और प्रतिरोध का सिनेमा को मजबूत बनायेंगे.


प्रो एम एम कलबुर्गी और स्वर्गीय भवानीशंकर थपलियाल की याद में 
और 
फिल्म एंड टी वी इंस्टीट्युट ऑफ़ इंडिया, पुणे के छात्रों के संघर्ष के समर्थन में 
प्रतिरोध का सिनेमा का पहला गढ़वाल फ़िल्म फ़ेस्टिवल

पहला दिन, शनिवार 26 सितम्बर 2015

सुबह 11 से दुपहर 12.15 बजे 
उदघाटन समारोह 
मुख्य अतिथि : डा आशुतोष कुमार
आलोचक व एसोसिएट प्रोफ़ेसर, हिंदी विभाग, दिल्ली विश्विद्यालय

भोटिया जन जाति की सांस्कृतिक झलक

नया भारतीय दस्तावेज़ी सिनेमा
गांव छोड़ब नाही 
5 मिनट/ 2011/ हिंदी/ रंगीन/ निर्देशक: के पी ससी 
ये हिटलर के साथी
9 मिनट/ 2015/ हिंदी/ रंगीन/ प्रस्तुति: शम्भाजी भगत

गाड़ी लोहरदगा मेल 
27 मिनट / 2005 / नागपुरी और हिंदी / रंगीन / निर्देशक : बीजू टोप्पो और मेघनाथ

स्मार्ट सिटी, हमारे शहर और दलित कामगार 
कचरा व्यूह 
59 मिनट/ 2005 / हिंदी/ रंगीन/ निर्देशक: अतुल पेठ

दुपहर 2 से 3 
लंच ब्रेक

दुपहर 3 से 5 
विकास, विस्थापन और संघर्ष 
ओडीशा के बहाने पूरे देश में चल रहे विकास के मॉडल पर सिने एक्टिविस्ट संजय जोशी की प्रस्तुति 
60 मिनट/ 2000 से अब तक/ सूर्य शंकर दाश द्वारा निर्मित विभिन्न लघु फिल्में

रेफरेंडम 
64 मिनट/ 2015/ कुई और उड़िया अंगरेजी सब टाइटल्स के साथ/ निर्देशक: तरुण मिश्र 
शाम ५ से ५.३० 
चाय 
शाम 5.30 से रात 8 
भारतीय कालजयी सिनेमा 
गरम हवा 
146 मिनट/ 1974/ हिंदी/ रंगीन/ निर्देशक: एम एस सथ्यू


दूसरा दिन, रविवार 27 सितम्बर 2015

पहला सत्र 
सुबह 9 से दुपहर 2 बजे

विश्व सिनेमा
सुबह 9 से 11.30 
द ग्रेट डिक्टेटर 
124 मिनट/ 1940/ अंग्रेजी/ ब्लेक एंड व्हाइट/ निर्देशक: चार्ली चैपलिन

11.30 से 11.40 
ब्रेक

सुबह 11.40 से दुपहर 2.20

हिमालयी संस्कृति, पर्यावरण और संकट

क्षेत्रीय सिनेमा 
गढ़वाली फिल्मों की विकास यात्रा पर डॉ डी आर पुरोहित की प्रस्तुति 
30 मिनट/ हिंदी

आपदा

देवी की दुविधा 
47 मिनट / 2015 / हिंदी, अंगरेजी और गढ़वाली / रंगीन / निर्देशक: निर्विकल्प

फ़िल्म के निर्देशक निर्विकल्प और पटकथा लेखक रमेश पन्त के साथ बातचीत

दस्तावेज

माघ मेला

72 मिनट / 1980/ हिंदी/ ब्लेक एंड व्हाईट/ निर्देशक: नेत्र सिंह रावत और अरुण सकट

दुपहर 2.20 से 3 
लंच ब्रेक

दुपहर 3 से शाम 5

हमारा स्वास्थ्य और नयी पहल

पहली आवाज़ 
52 मिनट/ 2014/ हिंदी/ रंगीन/ निर्देशक: अजय टी जी

शाम 4.15 से 5 
गढ़वाल में फिल्म सोसाइटी आंदोलन की संभावना

शाम 5 से 5.30 
चाय 
शाम 5.30 से शाम 7.45

नया भारतीय सिनेमा 
कोर्ट 
116 मिनट/ 2015/ मराठी अग्रेज़ी सब टाइटल्स के साथ/ रंगीन/ निर्देशक: चैतन्य तम्हाने

शाम 7.45 से 8 
पहले गढ़वाल फिल्म फेस्टिवल का समापन और प्रतिरोध का सिनेमा अभियान की शुरुआत की घोषणा.


गढ़वाल इकाई, जन संस्कृति मंच और प्रतिरोध का सिनेमा द्वारा आयोजित 
संपर्क : 9410563996, 9412120571, 9639338433
thegroup.jsm@gmail.com , Facebook: cinema of resistance






--


Pl see my blogs;


Feel free -- and I request you -- to forward this newsletter to your lists and friends!